Please set up your API key!

Himachal Aajkal

किन्नौरी नाटी की रही धूम, कारीगरों को पहनाई सूखे मेवे की माला

 Breaking News

किन्नौरी नाटी की रही धूम, कारीगरों को पहनाई सूखे मेवे की माला

किन्नौरी नाटी की रही धूम, कारीगरों को पहनाई सूखे मेवे की माला
November 28
18:05 2017

भावानगर (सुरजीत नेगी)। भावावैली के यांग्पा गांव में चल रहे तीन दिवसीय मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह के अंतिम दिन समारोह में कायंग यानि किन्नौरी नाटी की धूम रही। समारोह में शिरकत करने आई गांव की विवाहित बेटियों ने मंदिर कमेटी के सदस्यों व मंदिर को बनाने वाले सभी कारीगरों का पारम्परिक रीति के अनुसार सूखे मेवे की माला पहना कर सत्कार किया।

इसके अतिरिक्त मंदिर कमेटी द्वारा भी गांव की विवाहित बेटियों को उपहार स्वरूप कांसे की थालियां व देवता के आशीर्वाद का प्रतीक देवता का कपड़ा भेंट किया गया।

कमेटी द्वारा विशेष रूप से समारोह के अंतिम दिन भंडारे का आयोजन किया गया था। दिन भर चले कार्यक्रम के पश्चात शाम को देवताओं से क्षमा-याचना, जिसे स्थानीय भाषा में द्यूनपान देना कहा जाता है, करके सुख-शान्ति की कामना की गई।

समारोह की खासियत यह थी कि गांव की विवाहित बेटियां, चाहे वह देश या प्रदेश के किसी भी कोने में ब्याही गई हो, उन्होंने भी इस समारोह में शिरकत की। बाहर से आए अतिथियों की विदाई मंगलवार को होनी थी जिसे देवता की आज्ञा न मिलने के कारण बुधवार तक स्थगित किया गया।

आज के आधुनिक दौर में भी पुरानी परम्पराओं को पालन होना किन्नौर की समृद्ध संस्कृति के लिए एक अच्छा संकेत है। आज भी देवताओं के प्रति आस्था कायम है। संकेत है। आज भी देवताओं के प्रति आस्था कायम है।

Share

Related Articles

0 Comments

No Comments Yet!

There are no comments at the moment, do you want to add one?

Write a comment

Write a Comment